#20YearsAgo: शाहरूख Vs अजय लेकिन बाज़ी जीत के ले गए सनी देओल!

border

बॉलीवुड और रोमांस हमेशा साथ साथ चलते हैं और उसे साथ लेकर चलते हैं शाहरूख खान। शाहरूख फैन्स आज दिल तो पागल है के 20 साल का जश्न मना रहे हैं और फिल्म को 20 साल हो गए ये सुनकर हमें चक्कर से आ रहे हैं।

दिल तो पागल है में यश चोपड़ा ने रोमांस और म्यूज़िक का ऐसा जादू बिखेरा था कि ये फिल्म रोमांस की बेस्ट फिल्मों में दाखिल हो गई। वहीं करिश्मा कपूर का नेशनल अवार्ड तो कोई भूल ही नहीं सकता।
bollywood-films-released-in-1997-dil-to-pagal-hai-judwaa-ishq.

ये वो साल था जब शाहरूख खान रोमांस में डूब चुके थे और सलमान – अक्षय डबल रोल में। वहीं अजय देवगव और काजोल दोनों ही एक्सपेरिमेंट के मूड में आ चुके थे।

जानिए दिल तो पागल है के दौरान क्या कर रहे थे बाकी सुपरस्टार्स और 1998 में कैसा था बॉलीवुड –
दिल तो पागल है

इस साल का सबसे बड़ा धमाका थी दिल तो पागल है जिसने अवार्ड्स की लाइन लगा दी थी। श्यामक डावर और करिश्मा कपूर को फिल्म के लिए नेशनल अवार्ड भी मिला!
5 हीरोइनें रिजेक्ट

फिल्म को 5 हीरोइनों ने रिजेक्ट कर दिया था क्योंकि कोई माधुरी दीक्षित के साथ काम नहीं करना चाहता था। फाइनली करिश्मा ने 24 घंटे का समय लिया और हां कहा।
अफलातून

अक्षय कुमार उस साल डबल रोल ट्राई करने के मूड में थे और उन्होंने अफलातून में कॉमेडी की।
जुड़वा

वहीं सलमान तो हल्की फिल्में करने के लिए ही मशहूर हैं तो वही कर रहे थे, कुछ नया नहीं।
इतिहास

ट्विंकल खन्ना तब थीं लेकिन एक अच्छी फिल्म और अजय देवगन के साथ भी उनका कुछ भला नहीं हो पाया।
इश्क

अजय देवगन एक्सपेरिमेंट कर रहे थे और इश्क में उन्होंने एक्शन, कॉमेडी,रोमांस और एंगर का तड़का डाला। PS इश्क एक बेहतरीन फिल्म है…एक अच्छी कॉमर्शियल फिल्म!
यस बॉस

शाहरूख ने इस फिल्म से हल्का सा कॉमेडी ट्राई किया वहीं आदित्य पंचोली भी गेम में थे। इस फिल्म से कुछ टाइम के लिए अभिजीत ने शाहरूख की आवाज़ बनने की कोशिश की।
परदेस

उस साल इंडस्ट्री को सुभाष घई ने एक म्यूज़िकल ब्लॉकबस्टर दी। महिमा चौधरी के साथ।
कोयला

वहीं अमरीश पुरी कोयला और परदेस जैसी जो अलग और एकदम अलग फिल्मों में दो एक दम अलग किरदारों में दिखे थे।
विरासत

अनिल कपूर गेम में थे और विरासत जैसी बेहतरीन फिल्म ने क्रिटिक्स का दिल भी जीता और अवार्ड भी।
जुदाई

वहीं श्रीदेवी और उर्मिला मांतोडकर ने जुदाई जैसी शानदार फिल्म देकर दर्शक और बॉक्स ऑफिस दोनों जीते थे।
हीरो नं 1

गोविंदा हमेशा अपनी नं 1 सीरीज़ के साथ खुश रहते हैं।
गुप्त

काजोल ने इस फिल्म में निगेटिव किरदार निभाकर होश उड़ा दिए थे। इस किरदार ने देश में आंदोलन तक करवा दिए थे कि एक औरत खूनी नहीं हो सकती!
चाची 420

शायद कई लोगों ने ये फिल्म ना देखी हो लेकिन ये हमारी फेवरिट लिस्ट में हमेशा रहेगी….हमेशा!
बॉर्डर

उस साल की बेस्ट फिल्म थी बॉर्डर क्योंकि पाजी को कभी कोई इग्नोर नहीं करता!

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Don't have account. Register

Lost Password

Register