#MeToo:उर्वशी रौतेला बोलीं- बलात्कारियों की ‘नसबंदी’ कर देनी चाहिए

urvashi

ग्रेट ग्रैंड मस्ती और सनम रे जैसी फिल्मों में नजर आ चुकीं उर्वशी रौतेला ने भी #MeToo कैंपेन के पक्ष में आवाज उठाई है. उनका मानना है कि महिलाओं को कमजोर नहीं समझा जाना चाहिए. वे लड़ सकती हैं और अपने लिए न्याय भी पा सकती हैं.

उर्वशी ने कहा, महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा में नाकाम रहने के लिए हम सब जिम्मेदार हैं. महिलाएं पूरी दुनिया में कमजोर नहीं हैं. वे मजबूत हैं. महिलाओं को सशक्त दिखाना मेरी फिल्मों का भी मकसद है. जहां तक दुष्कर्मियों को सजा दिए जाने की बात है तो ऐसे लोगों की नसबंदी कर देनी चाहिए. इसी तरह से यौन उत्पीड़न की घटनाओं को रोका जा सकता है.

बता दें कि उर्वशी ने सनी देओल स्टारर सिंह साब दी ग्रेट से 2013 में डेब्यू किया था. वे सनम रे और ग्रेट ग्रैंड मस्ती में भी नजर आई हैं. उर्वशी को हेट स्टोरी 4 के लिए साइन किया गया है. अब वे भी उन बॉलीवुड एक्ट्रेस में शामिल हो चुकी हैं, जिन्होंने Metoo कैंपेन के तहत अपनी राय दी है.

#MeToo कैंपेन के जरिए दुनियाभर की महिलाओं ने अपनी आपबीती शेयर करते हुए कहा था कि वे भी अपने जीवन में कभी न कभी पुरुषों के द्वारा यौन हिंसा का शिकार हुई हैं. इसी अभियान के तहत हॉलीवुड फिल्म ‘अगली बेट्टी’ की अभिनेत्री अमेरिका फेरेरा ने भी अपनी जिंदगी से जुड़े एक राज से परदा उठाया था. उन्होंने बताया कि वह जब मात्र नौ साल की थीं, तब उन्हें भी यौन उत्पीड़न का शिकार होना पड़ा था.

बता दें कि ये अभियान हॉलीवुड निर्माता हार्वे वेंस्टीन के स्कैंडल के जवाब में शुरू किया गया था. सोशल मीडिया पर चलाए जा रहे अभियान के तहत महिलाएं अपने यौन उत्पीड़न के अनुभवों को साझा कर रही हैं.

 

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Don't have account. Register

Lost Password

Register