#FirstReview: जु़ड़वा 2…बहुत रिस्क लेकर देखिएगा…दिमाग घर पर फ्रिज में डाल दीजिए!

j2-696x986
वरूण धवन स्टारर जुडव़ा 2 आज रिलीज़ हो रही है लेकिन दुबई में फिल्म एक दिन पहले ही रिलीज़ हो जाती है और वहां के दर्शकों ने फिल्म को देख लिया है और वहां के क्रिटिक्स ने फिल्म का रिव्यू भी दे दिया है।

और खाड़ी देशों से जो फिल्म का रिव्यू आ रहा है वो पढ़कर आपको भले ही अच्छा ना लगे लेकिन हां, फिल्म हमारी उम्मीदों पर खरी ज़रूर उतरी है

एक खाड़ी पत्रिका की मानें तो फिल्म देखने से पहले आप अपना दिमाग कहीं सहेज कर आराम करने के लिए रख दीजिए और फिर फिल्म देखने जाइए क्योंकि ये फिल्म उतनी ही टॉर्चर है! प़ढ़िए खाड़ी देशों से आया जुड़वा 2 का ये रिव्यू यूएई की पत्रिका गल्फ न्यूज़ के अनुसार –
दिमाग घर रख के जाइए

दिमाग घर रख के जाइए जब वरूण धवन ने अपने फैन्स को कहा था कि चिल करो और फिर जुड़वा देखो। उनका मतलब केवल ये था कि अपने दिमाग को बिल्कुल इस्तेमाल मत करना। सोचना छोड़िए, इस अजीब सी कॉमेडी फिल्म को बनाने से पहले किसी ने कुछ सोचा ही नहीं।

1997 का अपडेट
1997 का अपडेट जब जुड़वा आई थी तो सलमान खान के चीप चुटकुलों पर लोग हंसे थे क्योंकि वो नए थे। लेकिन 20 साल बाद उन्हीं चुटकुलों पर कोई कैसै हंस सकता है भला। ये एक बहुत बुरा आईडिया था।
वरूण धवन की बेकार मेहनत

वरूण धवन की बेकार मेहनत हालांकि वरूण धवन ने बहुत कोशिश की है कि वो जुडव़ा स्टार लग पाएं और लोगों को अपनी ओर खींच सके। लेकिन उनमें सलमान खान वाला चार्म नहीं है कि वो कुछ भी नाटक करें और लोग देखें।
बेकार चुटकुले
बेकार चुटकुले फिल्म के चुटकुले इतने बेकार हैं कि पूछिए ही मत। जैसे कि एक चुटकुला है – अमरीका का प्रेसिडेंट कौन है – डोनाल्ड डक या डोनाल्ड ट्रंप!!!! अब आप ही बताइए ऐसे बेहुदे चुटकुले कौन मारता है आजकल!
हर कोई कर रहा है ओवरएक्टिंग

हर कोई कर रहा है ओवरएक्टिंग जुड़वा 2 में हर कोई ओवरएक्टिंग कर रहा है। क्यों पता नहीं। ओवरएक्टिंग छोड़िए। हर किसी का रिएक्शन भी ओवर रिएक्शन था।

बेकार डायलॉग्स
बेकार डायलॉग्स एक कॉमेडी फिल्म की जान होता है उसके डायलॉग्स। लेकिन जुड़वा देखकर ऐसा लगेगा कि किसी बच्चे ने अपन हाईस्कूल के नाटक के लिए डायलॉग्स लिखे थे और वो चुरा लिए गए।
केवल बिकीनी के लिए हीरोइनें

केवल बिकीनी के लिए हीरोइनें फिल्म में हीरोइनों को केवल इसलिए रखा गया है कि उनकी बिकीनी वाली तस्वीरें हों और सुंदर सी हसीनाएं हंसती रहें। परफेक्ट सी बॉडी दर्शकों को गाहे बगाहे दिखती रहे और थोड़ा नाच गाना होता रहे।
खिलखिलाती जैकलीन
खिलखिलाती जैकलीन जैकलीन फर्नांडीज़ पूरी फिल्म में इतना खिलखिलाती दिखेंगी कि आपके जबड़ों में दर्द हो जाएगा।
खो गई तापसी

खो गई तापसी ये फिल्म तापसी के लिए नहीं थी और वो पूरी फिल्म में खुद भी खोई हुई नज़र आई हैं। उन्हें खुद नहीं पता कि वो क्या कर रही हैं।
 फिल्म बचाने के लिए शर्टलेस
फिल्म बचाने के लिए शर्टलेस जब फिल्म धीमी होती है तो एक शर्टलेस वरूण धवन का एक्शन सीन या फिर गाना आ जाता है और फिल्म को आगे बढ़ा देता है।
राजपाल यादव भी बोर

राजपाल यादव भी बोर कुछ चुटकुलों को छोड़कर पूरी फिल्म सपाट है। राजपाल यादव भी फिल्म में ज़्यादा कुछ कर नहीं पाए हैं। हंसा तो कतई नहीं पाए हैं।
 मज़ेदार हैं गाने
मज़ेदार हैं गाने पूरी फिल्म में बस गाने देखने के लायक हैं और आज भी अनु मलिक आपको झूमने को मजबूर कर ही देते हैं और पुराने दिनों की याद दिलाते हैं।

सलमान भी नहीं आए काम

सलमान भी नहीं आए काम कुल मिलाकर फिल्म में सलमान खान भी काम नहीं आ पाए हैं, और खाड़ी देशों के क्रिटिक्स ने फिल्म को 1.5 से 2 स्टार दिए हैं। आप भी अपने रिस्क पर फिल्म देखने जाइए!

source: hindi.filmibeat

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Don't have account. Register

Lost Password

Register