फिट रहने के लिए यह खिलाड़ी खर्च करता है 10 करोड़ रुपए सालाना

12_06_2016-leborn.jpg

फिट रहने के लिए यह खिलाड़ी खर्च करता है 10 करोड़ रुपए सालाना

एनबीए में लीबोर्न जेम्स की ख्याति वैसी ही है जैसी क्रिकेट में महेंद्रसिंह धौनी या विराट कोहली की। द किंग जेम्स के नाम से लोकप्रिय यह खिलाड़ी पिछले छह साल से एनबीए प्लेऑफ में नियमित

न्यूयॉर्क। एनबीए में लीबोर्न जेम्स की ख्याति वैसी ही है जैसी क्रिकेट में महेंद्रसिंह धौनी या विराट कोहली की। द किंग जेम्स के नाम से लोकप्रिय यह खिलाड़ी पिछले छह साल से एनबीए प्लेऑफ में नियमित खेल रहा है वह भी बिना किसी फिटनेस समस्या के। अब खुलासा हुआ है कि वे अपनी फिटनेस पर 1.5 मिलियन डॉलर (करीब 10 करोड़ रुपए) सालाना खर्च करते हैं। यह अनुशासन फिटनेस चाहने वाले हर व्यक्ति के लिए आदर्श है।

बास्केटबॉल का खेल बहुत तेजी से खेला जाता है, जिसमें चोट लगना आम है। लगातार खेलने के लिए फिटनेस बनाए रखना हर खिलाड़ी के लिए अपनी तकनीक सुधारने से ज्यादा चुनौतीपूर्ण होता है। जेम्स पिछले चार सत्रों से मियामी हीट्स के साथ हैं जबकि उसके पहले दो सत्र उन्होंने अपने गृहनगर क्लेवलैंड्स के साथ बिताए और टीमों को शीर्ष स्तर तक ले गए।

इस दौरान कभी भी खराब फिटनेस के कारण उन्हें मैच से बाहर नहीं बैठना पड़ा। यह सब उस कठोर अनुशासन के कारण संभव हो सका, जो वे अपनी फिटनेस हासिल करने के लिए अपनाते हैं। फिटनेस के लिए बकायदा उन्होंने अलग बजट आवंटित किया है, जो 10 करोड़ रुपए से कुछ ज्यादा का है।

अमेरिका के खोजी पत्रकार बिल सिमंस के अनुसार लीबोर्न का फिटनेस बजट 10 करोड़ रुपए सालाना है। उनकी एनबीए टीम के जिम में जितने भी उपकरण हैं, वे सभी उन्होंने अपने घर में बने निजी जिम में भी लगवाए हैं। दो निजी ट्रेनर हैं जो हमेशा उनके साथ रहते हैं। यात्राओं के दौरान भी ट्रेनर उनके साथ होते हैं। उन्होंने मुझे संक्षिप्त चर्चा में जो बताया, उसी के आधार पर मैं यह व्याख्या कर रहा हूं। उनकी दिनचर्या वैज्ञानिक आधार पर तय की गई है। इसमें यह भी शामिल है कि क्या खाना है और कब सोना है।

फिटनेस से जुड़ी हर बात का ध्यान रखा जाता है। उनके साथ खुद का रसोइया भी होता है। यही कारण है कि वे कोर्ट पर इतने फिट और चपल नजर आते हैं।

10 सालों से एक ही ट्रेनर

जेम्स पिछले 10 सालों से माइक मानसिआस से ट्रेनिंग ले रहे हैं। वे कोई भी टीम से खेलें, ट्रेनर माइक ही होते हैं। जब माइकल जॉर्डन 2001 में वॉशिंगटन विजार्ड्स के जरिए एनबीए में दूसरी बार वापसी कर रहे थे तो माइक उनके साथ जुड़े थे। जेम्स उनसे खुराक के बारे में भी सलाह लेते हैं। 2014 में उन्होंने शक्कर, डेयरी उत्पाद और कार्बोहाइड्रेट्स का सेवन लगातार 67 दिनों तक नहीं किया था।

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

13 Jun 2016 07:36:50 GMT
Source: http://www.jagran.com/news/sports-ten-crore-amount-annualy-to-become-fit-and-healthy-14145426.html

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Don't have account. Register

Lost Password

Register