इस बार विधानसभा चुनाव में भाजपा बनाम उत्‍तराखंड की जनता: सीएम हरीश रावत

इस बार विधानसभा चुनाव में भाजपा बनाम उत्‍तराखंड की जनता: सीएम हरीश रावत

देहरादून के डीबीएस कॉलेज में मुख्‍यमंत्री हरीश रावत ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि इस बार विधानसभा चुनाव में भाजपा बनाम उत्‍तराखंड की जनता होगी।

देहरादून, [जेएनएन]: कांग्रेस के बड़े नेताओं के लगातार भाजपा में शामिल होने पर पूछे गए सवालों पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि आगामी विधान सभा चुनाव में या तो भाजपा कीमत अदा करेगी या उत्तराखंड के लोग। यह चुनाव भाजपा बनाम उत्तराखंड की जनता ही होगा।
उन्होंने कहा कि ये लोग कांग्रेस के लिए बोझ थे, अब इन्हें भाजपा झेले। अगर इन्हें लोगों ने जिताया तो जनता इसकी कीमत भुगतेगी और अगर हारे तो भाजपा को कीमत चुकानी होगी।

पढ़ें: एनडी तिवारी बोले; कमाल है कि अभी तक काशीपुर जिला नहीं बना, हरीश से बात करुंगा
देहरादून डीबीएस पीजी कॉलेज में पत्रकारों के सवालों के जवाब में मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि दल बदलने वाले पार्टी पर ही नहीं, राज्य पर भी बोझ हैं। आने वाले वक्त में भारतीय जनता पार्टी को यह बात समझ आएगी।
उन्होंने कहा कि आगामी विधान सभा चुनाव में कांग्रेस को इससे कोई नुकसान नहीं होने वाला। अगर लोगों ने दल बदलुओं को हराया तो एक अच्छी परंपरा शुरू होगी और अगर उन्हें जिताया तो राज्य को इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी। हर छह-छह माह में सरकार गिरेंगी और सीएम बदलेंगे।
वहीं, अगर जनता ने इनकी मंशा को समझा और हराया तो भाजपा को इसका नुकसान होगा। उत्तर प्रदेश की पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी के भाजपा में शामिल होने पर उन्होंने कहा कि इसका जवाब भाजपा को जल्द मिल जाएगा।
उधर, इससे पूर्व पुलिस स्मृति दिवस पर आयोजित कार्यक्रम के बाद मीडिया के सवालों के जबाव में सीएम हरीश रावत ने कांग्रेस छोड़ कर गई रीता बहुगुणा जोशी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वे मौकापरस्त हैं।
उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस मजबूत स्थिति में थी, तब लाभ उठाया और जब संघर्ष का वक्त आया तो पाला बदल लिया। वे प्रवासी पक्षी की तरह हैं, देखते हैं कि कब तक भाजपा में वह टिक पाती हैं।

पढ़ें: मुन्ना सिंह चौहान ने स्पीकर पर लगाया पद के दुरुपयोग का आरोप
कैलाश खेर मामले पर भी बोले सीएम रावत
वहीं, कैलाश खेर को मोटी रकम दिए जाने के मामले में सीएम ने कहा कि सरकार ने जितना बजट उस पर खर्च किया है, उससे कहीं ज्यादा उससे फायदा होगा। पर्यटक और तीर्थयात्री उत्तराखंड की ओर आकर्षित होंगे।
जहां तक स्थानीय कलाकारों की उपेक्षा का सवाल है तो सरकार हर कलाकार का सम्मान करती है यदि किसी की भावना को ठेस पहुंची है तो आगे से ऐसा नहीं होगा।

पढ़ें: रीता बहुगुणा पर सरिता आर्य की फिसली जुबां, कह गई ऐसा…

21 Oct 2016 17:24:42 GMT
Source: http://www.jagran.com/uttarakhand/dehradun-city-14906289.html

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Don't have account. Register

Lost Password

Register